Home Business ई-कॉमर्स क्या है? Ecommerce Website कैसे बनाये?

ई-कॉमर्स क्या है? Ecommerce Website कैसे बनाये?

2
E-commerce Website

एक समय था जब हमारी जरूरत के सामान को खरीदने के लिए हमें सीधे बाज़ार जाना पड़ता था| यदि ये पता ना हो कि ये सामान कहाँ मिलेगा तो हमें पूरा शहर घूमना पड़ जाता था| सबसे ज्यादा समस्या उन लोगो को होती थी जो दूर-दराज़ इलाक़ो और गावों में रहते है| उन्हें कोई भी नये सामान को खरीदने के लिए शहर आना पड़ता था| जिसमे उन्हें कई तरह के समस्याओं से भी गुजरना पड़ता था|

सबसे ज्यादा समस्या तब आती थी जब शहर में कोई एक दुकान वाला आपसे किसी भी सामान का मनमाने ढंग से पैसे वसूलता था| उस समय हमें किसी भी प्रोडक्ट का सही दाम नही पता होता था| परन्तु आज के समय में कोई भी प्रोडक्ट को खरीदना हो तो इंटरनेट से उसका प्राइस जान लेते है| अब इंटरनेट आ जाने से बहुत कुछ बदल चूका है|

ई-कॉमर्स क्या है?

ई-कॉमर्स अंग्रेजी शब्द Ecommerce में E और Commerce शब्द को मिलाकर बना है| जहाँ E का मतलब Electronic है जिसे पूरा पड़ेंगे तो Electronic Commerce आएगा| “यदि किसी सामान का इलेक्ट्रॉनिक माध्यम से इंटरनेट के द्वारा क्रय-विक्रय या आदान-प्रदान किया जाता है तो उसे ई-कॉमर्स कहा जायेगा|”

उदाहरण के लिए यदि आपको कोई भी सामान कि जरूरत है आप उस सामान को इंटरनेट द्वारा किसी वेबसाइट जैसे Flipkart, Amazon से खरीदते है और वह सामान आप तक डिलीवर हो जाता है तो यह प्रक्रीया Ecommerce में आएगा| भारत में Amazon, Flipkart इसका सबसे बड़ा उदाहरण हैं|

Types of E-commerce

देखा जाये तो E-commerce मुख्यतः 4 प्रकार के होता है| किसी भी बिज़नेस और कस्टमर के उपयोग के लिए इनके अलग-अलग कार्य है|

  1. Business-to-Consumer (B2C)
  2. Business-to-Business (B2B)
  3. Consumer-to-Consumer (C2C)
  4. Consumer-to-Business (C2B)

#1 Business-to-Consumer (B2C)

इस केटेगरी में E-commerce कि प्रकिया सीधे Business से Customer के बीच में होती है, मतलब कोई भी कस्टमर Online किसी बिज़नेस वेबसाइट से कोई भी प्रोडक्ट खरीद सकता है| जैसा हमारे देश में Amazon, Flipkart, Snapdeal की प्रक्रिया है|

#2 Business-to-Business (B2B)

जब कोई एक कंपनी दुसरे कंपनी से कोई भी प्रोडक्ट ख़रीदता या बेचता है तो यह सीधे B2B केटेगरी में आएगा| मान लीजिये यदि कोई मोबाइल कंपनी है उसे अपना मोबाइल बनाने के लिए सॉफ्टवेयर और प्रोसेसर कि ज़रुरत पड़ेगी तो वह इसके लिए दुसरे कंपनी से खरीदेगी, तब जाकर उसका मोबाइल पूरी तरह तैयार होगा|

#3 Consumer-to-Consumer (C2C)

जब एक Consumer अपना प्रोडक्ट दुसरे Consumer को बेचता है या उससे खरीदता है तो या प्रक्रिया C2C में आएगा| इसका सबसे बड़ा उदाहरण Olx और Quikr जैसे वेबसाइट है| Olx पर आप सीधे किसी Consumer से जो आपके तरह ही कोई जरूरतमंद होगा उससे उसका प्रोडक्ट खरीद सकते है या फिर उसे अपना प्रोडक्ट बेच सकते है|

#4 Consumer-to-Business (C2B)

C2B में कोई भी कंपनी अपने लिए जरूरत के लिए कोई भी सामान किसी Consumer से खरीदता है या उसकी सर्विस लेता है| यदि किसी कंपनी को अपने बिज़नेस के लिए सॉफ्टवेयर और वेबसाइट की ज़रुरत पड़ती है तो वह किसी Freelance Developer से यह सब खरीदता है|

E-commerce Business कैसे करे?

भारत में E-commerce Business शुरू करना इतना भी मुश्किल नही है जितना लोग समझते है आपको बस इसके बारे में अच्छी जानकारी होनी चाहिए| अगर इसके बारे में जानकारी रखते है तो आप खुद इसे स्टार्ट कर सकते है| जो लोग पहले से अपना कोई दुकान चलाते है या उनका अपना कोई प्रोडक्ट जो वो खुद बनाते है उन्हें इसे स्टार्ट करने में ज्यादा कुछ नही करना पड़ेगा उन्हें बस एक वेबसाइट और बैंक अकाउंट कि ज़रुरत पड़ेगी|

जिन लोगो के पास अपना खुद का प्रोडक्ट नहीं है वो उन लोगो कि भी हेल्प ले सकते है जिनके पास प्रोडक्ट तो है लेकिन उनको ऑनलाइन के बारे में जानकारी नहीं होती है|

E-commerce Website कैसे बनाये?

अपने प्रोडक्ट की जानकरी और तैयारी पूरी करने के बाद आपको अपने वेबसाइट पर फोकस करना होगा| एक समय था जब एक डेवलपर किसी भी Ecommerce Website के लिए 50-60 हज़ार रुपये ले लेते थे| जिसको बनाने में वो काफी समय भी लेते थे| परन्तु अब कुछ ऐसे सॉफ्टवेयर और मोड्यूल आ गए है जिससे कम खर्च में किसी भी तरह कोई कोई E-commerce Website वेबसाइट बनाया जा सकता है|

ई-कॉमर्स वेबसाइट बनाने के लिए WooCommerce, Magento, Shopify प्लेटफार्म को सबसे बढ़िया माना जाता है| इसमें से WooCommerce सबसे सरल और फ्री मोड्यूल है|

यहाँ मैं आपको कुछ स्टेप बताऊंगा जिससे आप खुद अपना एक ई-कॉमर्स वेबसाइट बना सकते है| बस आपको आगे का लेख ध्यान से बढ़ना होगा-

डोमेन रजिस्टर

ई-कॉमर्स वेबसाइट बनाने के लिए सबसे पहला काम होता है आप उसका डोमेन रजिस्टर करे| जैसे- flipkart.com, amazon.in ये सब डोमेन है| आपको भी अपने प्रोडक्ट के अनुसार एक डोमेन चुनना होगा और उस डोमेन को आप Godaddy से रजिस्टर कर सकते है| एक डोमेन के लिए आपको 1000 रूपए तक खर्च करने पड़ सकते है|

होस्टिंग रजिस्टर

कोई भी वेबसाइट बनाये आपको होस्टिंग की ज़रुरत पड़ेगी, होस्टिंग एक तरह का ऑनलाइन स्पेस ही होता है जहाँ आपके वेबसाइट से सम्बंधित सभी फाइलें एक जगह रखी जाती है| जिसे डोमेन द्वारा कही से भी एक्सेस किया जा सकता है| आप एक अच्छा और सिक्योर होस्टिंग ही ख़रीदे इसके लिए आपको एक साल के लिए 6000 रुपये तक खर्च करने पड़ सकते है| अच्छा और सस्ते होस्टिंग के लिए आप Resellerclub पर रजिस्टर कर सकते है|

WordPress इंस्टाल करे

WordPress एक तरह का सॉफ्टवेयर ही है जो वेबसाइट बनाने के लिए बिलकुल फ्री में उपलब्ध है| WordPress.org से इस फ्री में डाउनलोड कर सकते है| यदि आपको वर्डप्रेस इंस्टाल करने में कोई दिक्कत है तो आप होस्टिंग लेने से पहले उन्हें कॉल कर शर्त रखे कि आप हमें हमारा डोमेन सेट कर और मेरे होस्टिंग में WordPress इंस्टाल कर देंगे| वे ये सब आपके लिए कर देंगे|

WooCommerce इंस्टाल करे

WooCommerce वर्डप्रेस का एक फ्री प्लगइन है जिसके द्वारा Ecommerce सम्बंधित सभी फीचर आपको मील जायेंगे| इसे इंस्टाल करना बहुत सरल है एक बार WordPress का डैशबोर्ड लॉग इन कर लेंगे तो आप इसको समझ जायेंगे| WooCommerce में आप अपने सभी प्रोडक्ट अपलोड कर सकते है| आर्डर कि जानकारी प्राप्त कर सकते है साथ ही पेमेंट गेटवे भी जोड़ सकते है जिससे आपको पैसा सीधे आपके बैंक में आ जायेगा|

Website Theme चुने

अपने Ecommerce Website को थोडा डिज़ाइनर बनाए के लिए उसपर अपने पसंद अनुसार कोई थीम चढ़ाये| जिससे आपके वेबसाइट का लुक और भी अच्छा हो जायेगा| WordPress.org पर आपको हजारो थीम फ्री में मील जायेंगे और वही से आपको इसे इंस्टाल करने कि जानकारी भी मील जायेगा| अगर आप थीम के लिए थोडा पैसा खर्च करना चाहते है तो आपको प्रीमियम थीम Themeforest पर मील जायेगा|

इसके बाद आपका वेबसाइट ऑनलाइन जाने के लिए तैयार हो जायेगा| वेबसाइट का काम पूरा होने के बाद अब उस गूगल पर लिस्ट करनी पड़ेगी तब जाकर आपको उस वेबसाइट पर ट्रैफिक मिलेगा| इसके लिए आपको अपने वेबसाइट का SEO करना होगा| SEO कैसे करते है इसपर मैंने पहले ही कई सारे पोस्ट बना रखा है आप उसको भी ध्यान से पढ़ ले और उसे अपने Ecommerce Website पर अप्लाई कर ले|

जब आपके वेबसाइट पर गूगल द्वारा ट्रैफिक आने लगेगा तब आपके वेबसाइट पर जो भी प्रोडक्ट लिस्ट हुआ है, उसे लोग आर्डर करने लगेंगे इससे आपका प्रोडक्ट बिकना शुरू हो जायेगा| एक बार प्रोडक्ट बिकना शुरू हो गया तो आप अच्छे-खासे पासे कमा सकते है|

तो दोस्तों, अब तो आप Ecommerce Business के बारे में सब कुछ अच्छे से जान गए होंगे| तो फिर देर किस बात कि है आज कि अपना E-commerce Website बनाये और Business करना शुरू कर दे|

मुझे उम्मीद है आज का लेख आपकी काफी हेल्प किया होगा| यदि आपको ऊपर बताये गए स्टेप में काफी भी दिक्कत आती है तो तुरंत निचे कमेंट्स कर दे हम उसका निवारण आपको ज़रूर बताने कि कोसिस करेंगे| अगर आपको हमारा आज लेख पसंद आया तो इसे सबके साथ शेयर ज़रूर करे|

2 COMMENTS

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

error: Content is protected !!
Exit mobile version