Home Web Development WordPress Theme चुनने से पहले कौन-कौन से Features देखना चाहिए

WordPress Theme चुनने से पहले कौन-कौन से Features देखना चाहिए

2
WordPress Features

हमारा आज का ये पोस्ट उन वेब डेवलपर और ब्लॉगर के लिए है जो वर्डप्रेस पर अपनी वेबसाइट या ब्लॉग बनाने कि सोच रहे है| अब आप सोच रहे होंगे कि किसी वेब डेवलपर को WordPress Theme की क्या ज़रुरत वो तो खुद कोडिंग से थीम या वेबसाइट बना सकता है| सबसे पहले मैं आपको क्लियर कर दू कि वर्डप्रेस केवल ब्लॉग्गिंग के लिए ही नही है आप इसपर किसी भी प्रकार के बिज़नेस वेबसाइट भी बना सकते है| आपको जानकर हैरानी होगी कि वर्डप्रेस से आप फ्लिप्कार्ट या स्नेपडील के जैसे अपना ई-कॉमर्स वेबसाइट भी बना सकते है|

आजकल ज्यादातर वेब डेवलपर वेबसाइट के लिए WordPress Theme का ही इस्तेमाल कर रहे है| क्लाइंट या कस्टमर कि भी इसके लुक और लेआउट की ज्यादा डिमांड रहती है|

वर्डप्रेस थीम ही क्यूँ?

ये सच है कि ज्यादातर लोग कोडिंग या प्रोग्रामिंग से वेबसाईट बनवाने से बेहतर उन्हें वर्डप्रेस से वेबसाइट डेवलपमेंट करना सही लगता है| आईये जानते है आखिर क्या कारण है?

  • वर्डप्रेस थीम का लुक और डिजाईन एकदम क्लीन और काफी आकर्षित लगता है|
  • एडमिन डैशबोर्ड इतना सरल होता है कि इसे कोई भी इस्तेमाल कर सकता है|
  • जब चाहे तब कोई भी थीम बदल सकते है|
  • ड्रैग एंड ड्राप फीचर से आप खुद डिजाईन कर सकते है|
  • कई हज़ार वर्डप्रेस थीम मार्केट में उपलब्ध है|
  • SEO के मामले में ये काफी बेहतर माना जाता है|
  • अपडेट का आप्शन ताकि कोडिंग जनरेशन के हिसाब से अपडेट होते रहे|
  • सपोर्ट और डॉक्यूमेंटेशन उपलब्ध होते है जिससे थीम इंस्टाल करने में कोई दिक्कत नही होती|

हिंदी ब्लॉगरो के लिए 5 सबसे बेहतरीन WordPress Themes

अब आप सोच रहे होंगे कि ये सभी फीचर तो मैं कोडिंग करके बना लूँगा| मैं गारंटी देता हूँ कि जबतक आपके पास कम से कम 8 साल का कोडिंग में अनुभव नही है तो आप वर्डप्रेस और उसके थीम जैसे फीचर बना ही नही सकते| आपसे कुछ न कुछ छुट ही जायेगा या कोई गलती छोड़ देंगे जिससे SEO, स्पीड या कोई अपडेट के समय दिक्कत आ सकती है| वर्डप्रेस 15 वर्षो से भी अधिक इस फ़ील्ड में है और हजारो डेवलपर ऑफिशियली और अनऑफिशियली रूप में जुड़े हुए है| जिन्हें हर प्रकार के वेब डेवलपमेंट नियम के बारे में अच्छे से पता है|

WordPress Theme के Features

आईये अब जानते है वर्डप्रेस थीम चुनने से पहले उसमे कौन-कौन से फीचर देखना चाहिए जिससे हमें वेब डेवलपमेंट करते समय या भविष्य में किसी भी प्रकार का कोई दिक्कत का सामना ना करना पड़े-

#1 पूर्ण रूप से रेस्पोंसिव

सबसे पहले आप ये जरूर देख ले कि आप जो थीम अपने वेबसाइट के लिए ले रहे है वह पूर्ण रूप से मोबाइल रेस्पोंसिव मतलब क्या आपका थीम सभी प्रकार के स्क्रीन जैसे- डेस्कटॉप, लैपटॉप, टेबलेट और मोबाइल पर सही तरीके से दिख रहा है या नही| क्या ये थीम सभी स्क्रीन साइज़ पर ऑटो एडजस्ट हो रहा है कि नही| अगर ऐसे हो रहा है तो आपका थीम सही है|

#2 1-क्लिक डेमो इम्पोर्ट

लगभग सभी वर्डप्रेस थीम में 1-क्लिक डेमो इम्पोर्ट का फीचर मिलता है| ये सुनिश्चित कर ले कि आपके वर्डप्रेस थीम में ये फीचर है या नही| इस फीचर का फायदा ये होता है कि इसमें आपको बने बनाये कई सारे डेमो मिलता है जिसपर क्लिक करते ही ये डेमो आपके सर्वर पर इंस्टाल हो जाता है| ये डेमो डेवलपमेंट के समय एडिट करने में बहुत हेल्प करती है|

#3 Visual Composer

ये drag & drop पेज बिल्डर है जिसके मदद से आप अपने वेबसाइट के किसी भी पेज को एडिट कर सकते है| इसके अंतर्गत WPBakery Page Builder प्लगइन आता है जो अबतक का सबसे बेस्ट पेज बिल्डर प्लगइन है| ज्यादातर डेवलपर ये देखते है कि थीम में WPBakery Page Builder फीचर उपलब्ध है कि नही| ऐसे तो बहुत सारे Visual Composer पेज बिल्डर प्लगइन मार्केट में उपलब्ध है लेकिन मेरे हिसाब से WPBakery सबसे बेस्ट है|

#4 पेज स्पीड

पेज स्पीड किसी भी वेबसाइट के लिए बहुत बड़ा मायने रखता है| अगर आप कोई भी वेबसाइट किसी ब्राउज़र में खोलते है तो उसे खुलने में कितना समय लग रहा है ये देखा जाता है| यदि आपका वेबसाइट खुलने में ज्यादा से ज्यादा 7 सेकंड लग रहा है तो ये ठीक है यदि इससे ज्यादा टाइम लगा रहा है तो ये सोचने वाली बात होगी| वेबसाइट कि पेज स्पीड देखने के लिए आप गूगल के PageSpeed पर जाकर चेक कर सकते है| बेहतर स्पीड SEO और बाउंस रेट के लिए ठीक होता है|

#5 SEO Ready

आजकल हर कोई चाहता है कि उसका वेबसाइट या ब्लॉग बनने के बाद गूगल पर भी दिखे जिससे उसके वेबसाइट पर ट्रैफिक आ सके| हमसब जानते है कि गूगल पर आने के लिए वेबसाइट का SEO करना पड़ता है| उसके लिए ये देखते है कि क्या आपका वर्डप्रेस थीम जो आप लेने के लिए सोच रहे है उसके कोडिंग SEO के सभी रूल के अनुसार बना है या नही| वैसे तो वर्डप्रेस पर SEO करने के लिए अलग से प्लगइन होते है पर हम ये देखते है कि हमारा थीम उस प्लगइन को ठीक से मैनेज कर पायेगा या नही|

SEO क्या है? कैसे काम करता है? और क्यों जरुरी है हर वेबसाइट के लिए?

#6 थीम पैनल

थीम पैनल या थीम आप्शन या फिर थीम सेटिंग लगभग हर वर्डप्रेस के प्रीमियम थीम में होता है| जहाँ पर आपको थीम को सेट करने के सभी सेटिंग दिए हुए होते है| जिसकी मदद से आप अपने वेबसाइट पर किसी भी प्रकार के फीचर को बंद या चालू या फिर बदल सकते है| इसमें आपको  Header Setting, Footer Setting, Page Setup, Post layout, Font, कलर इत्यादि जैसे बहुत सारे सेटिंग मिलते है|

#7 WooCommerce

यदि आप अपने वेबसाइट को ई-कॉमर्स वेबसाइट बनाना चाहते है तो ये वर्डप्रेस में इसके बिना नही बन पायेगा| WooCommerce एक वर्डप्रेस प्लगइन है जिसमे ऑनलाइन ई-कॉमर्स के सभी फीचर होते है| यदि आप अपने वेबसाइट पर किसी प्रकार का कोई प्रोडक्ट सेल करना चाहते है या फिर भविष्य में इसके आसार हो सकते है तो आपको अभी से ही जो थीम आप चुन रहे है उसमे देख ले कि क्या वह WooCommerce के लिए सही है? क्या वह WooCommerce के सभी फीचर को सपोर्ट करेगा?

#8 Translation-Ready

ज़रूरी नही कि हर थीम आपको अपने लोकल भाषा में उपलब्ध हो, ज्यादातर वर्डप्रेस थीम अंग्रेज़ी में ही होते है पर इस भाषा को बदलने के लिए इसमें ट्रांसलेशन का आप्शन मिलता है| यदि आप हिंदी या कोई लोकल भाषा में वेबसाइट बनाने कि सोच रहे है तो अपने थीम में ये फीचर जरूर देख ले| Translation फीचर से आप वेबसाइट के सभी वर्ड को बदल सकते है|

#9 GDPR support

नए policy नियम के अनुसार आपका थीम GDPR को ध्यान में बनाया गया हो| आजकल सभी वर्डप्रेस थीम GDPR के नए नियम के अनुसार बनाया जाता है| थीम पर यदि नए अपडेट आये होंगे तो वो GDPR support करता होगा यदि पुराना थीम है तो इससे ज़रूर देख ले| जयादा जानकारी के लिए GDPR क्या है? ये काम कैसे करता है? इसके क्या फायदे हैं? को ज़रूर पढ़े|

#10 डॉक्यूमेंटेशन

आप थीम तो ले लेंगे लेकिन उसको सर्वर और वर्डप्रेस पर इंस्टाल कैसे करेंगे? ये आपको ही करना होगा| इसके लिए थीम डेवलपर आपको पुरे थीम स्ट्रक्चर का ऑनलाइन या ऑफलाइन डॉक्यूमेंटेशन बनाकर देती है| ये आपको वेब फॉर्मेट में या YouTube पर विडियो फॉर्मेट में डॉक्यूमेंटेशन उपलब्ध कराये जाते है| इसमें आपको थीम इंस्टालेशन से लेकर सभी सेटिंग के बारे में बताया गया होता है| यदि कोई समस्या आती है तो उसके लिए सपोर्ट और फोरम उपलब्ध कराये जाते है|

ध्यान दीजियेगा ऊपर दिए सभी लिस्ट अपने थीम में देख लिया तो आपको भविष्य में यदि कुछ बदलाव आते भी है तो आपको ज्यादा दिक्कत नही होगी| इसके अलावा भी बहुत कुछ देखा जाता है लेकिन ये निर्भर करता है कि आपको अपने वेबसाइट में क्या-क्या फीचर चाहिए| अगर कुछ फीचर जोड़ना भी है तो उसके लिए अलग से प्लगइन आते है आप उनका इस्तेमाल थीम के साथ भी कर सकते है| सभी थीम और प्लगइन आपको themeforest के वेबसाइट पर आसानी से मील जायेगा|

दोस्तों, ये पोस्ट मैंने अपने अनुभव के अनुसार पोस्ट किया है| इसी को ध्यान में रखकर मैंने बहुत सारे वेबसाइट बनाये है| आप भी इसको पढ़कर अपना ब्लॉग या वेबसाइट खुद बना सकते है| वेबसाइट बनाते हुए यदि कोई समस्या आती है तो हमसे जरुर संपर्क करे| आप अपने सुझाव या कोई ऐसे प्लगइन जो छुट गया हो वो निचे कमेंट में बता सकते है|

2 COMMENTS

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

error: Content is protected !!
Exit mobile version